Archives

2017

Vol 3, No 10 (2017): VOL-03-Issue-10-October-2017

साहित्य संहिता  का प्राइम फोकस हिंदी की पढ़ाई से संबंधित लेख प्रकाशित करने के लिए है। यह पत्रिका हिन्दी अनुसंधान में छात्रों और कर्मियों को प्रेरित करने के उद्देश्य के साथ मंच प्रदान करता है। हिन्दी साहित्यए प्राचीन भारतीय विज्ञान (हिन्दी में), संगणना भाषा विज्ञान, संस्कृति, महाकाव्य, व्याकरण, इतिहास, भारतीय सौंदर्य और राजनीति, पुराणों, धर्म, साहित्य, वेद, वैदिक अध्ययन, बौद्ध साहित्य, भारतीय और पश्चिमी तार्किक सिस्टम, भारतीय प्रवचन विश्लेषण, भारतीय दर्शन, भारतीय सामाजिक-राजनीतिक चिंतन, प्दकवसवहपबंस अध्ययन, जैन साहित्य, हिंदू ज्योतिष । अपने विचार और टिप्पणियां अत्यधिक प्रशंसित किया जाएगा। लेखक sahityasamhita@gmail.com or editor@sahityasamhita.org के लिए अपने लेख भेज सकते हैं। सभी पांडुलिपियों त्वरित समकक्ष समीक्षा प्रक्रिया और (पहले प्रकाशित नहीं और एक अन्य पत्रिका के प्रकाशन के लिए विचाराधीन नहीं कर रहे हैं जो कर रहे हैं) के लिए उच्च गुणवत्ता के उन लोगों के बाद के अंक में बिना किसी देरी के प्रकाशित किया जाएगा के अधीन हैं। पांडुलिपि के ऑनलाइन जमा करने की जोरदार सिफारिश की है। एक पांडुलिपि नंबर एक सप्ताह या जल्दी के भीतर इसी लेखक के लिए भेज दिया जाएगा। हिन्दी रिसर्च इंटरनेशनल जर्नल की ओर से, मैं अपने सभी साथी शोधकर्ताओं और विद्वानों के लिए मेरे संबंध बढ़ाने और उन्हें अपने क्षेत्र में समृद्धि की कामना करता हूं। International Journal of Hindi Research is a Peer Reviewed Journal. Prime focus of the journal is to publish articles related to the Hindi studies. This journal provides platform with the aim of motivating students and personnel in Hindi Research. sahitya Samhita, International Journal in Hindi, considers review and research articles related to: Hindi Literature, Ancient Indian Sciences (In Hindi), Computation Linguistics, Culture, Epics, Grammar, History, Indian Aesthetics and Politics, Puranas, Religion, Sahitya, Veda, Vedic Studies, Buddhist Literature, Indian and Western Logical Systems, Indian Discourse Analysis, Indian Philosophy, Indian Socio-Political Thought, Indological Studies, Jain Literature, Hindu Astrology (Jyotiḥśāstra). Your views and comments will be highly acclaimed. Author can send their articles to sahitasamhita@gmail.com or editor@sahityasamhita.org All manuscripts are subjected to RAPID peer review process and those of high quality (which are not previously published and are not under consideration for publication by another journal) would be published without any delay in subsequent issue. Online submission of the manuscript is strongly recommended. A manuscript number will be mailed to the corresponding author within one week or early. On the behalf of Sahitya Samhita, I would like to extend my regards to all fellow researchers and scholars and wish them prosperity in their field. sahityasamhita@gmail.com or editor@sahityasamhita.org

Vol 3, No 9 (2017): VOL-03_ISSUE-10_September_2017

साहित्य संहिता एक अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका है जिस में हिंदी भाषा में लिखी सभी तरह के लेख प्रकाशित होते है.

Hindi Journal, International Hindi Journal, Hindi Journal with Impact Factor, Hindi Language Jounal, Hindi magazine, Hindi patrika, Hindi research journal, Hindi journal for Research. 

 

Vol 3, No 8 (2017): VOL-03_ISSUE-08_August_2017

साहित्य संहित हिंदी भाषा में प्रकाशित अन्तराष्ट्रीय पत्रिका है जो है विषय के लेख को प्रकाशित करती है. साहित्य संहिता में प्रकाशित शोधपत्र पुरे दुनिया में पढ़ी जाती है.

Vol 3, No 7 (2017): VOL-03_ISSUE-07_July_2017

इंटरनेशनल जर्नल पत्रिका का प्राइम फोकस हिंदी की पढ़ाई से संबंधित लेख प्रकाशित करने के लिए है। यह पत्रिका हिन्दी अनुसंधान में छात्रों और कर्मियों को प्रेरित करने के उद्देश्य के साथ मंच प्रदान करता है। हिन्दी साहित्यए प्राचीन भारतीय विज्ञान (हिन्दी में), संगणना भाषा विज्ञान, संस्कृति, महाकाव्य, व्याकरण, इतिहास, भारतीय सौंदर्य और राजनीति, पुराणों, धर्म, साहित्य, वेद, वैदिक अध्ययन, बौद्ध साहित्य, भारतीय और पश्चिमी तार्किक सिस्टम, भारतीय प्रवचन विश्लेषण, भारतीय दर्शन, भारतीय सामाजिक-राजनीतिक चिंतन, प्दकवसवहपबंस अध्ययन, जैन साहित्य, हिंदू ज्योतिष । अपने विचार और टिप्पणियां अत्यधिक प्रशंसित किया जाएगा। लेखक edupediapublications@gmail.com के लिए अपने लेख भेज सकते हैं। सभी पांडुलिपियों त्वरित समकक्ष समीक्षा प्रक्रिया और (पहले प्रकाशित नहीं और एक अन्य पत्रिका के प्रकाशन के लिए विचाराधीन नहीं कर रहे हैं जो कर रहे हैं) के लिए उच्च गुणवत्ता के उन लोगों के बाद के अंक में बिना किसी देरी के प्रकाशित किया जाएगा के अधीन हैं। पांडुलिपि के ऑनलाइन जमा करने की जोरदार सिफारिश की है। एक पांडुलिपि नंबर एक सप्ताह या जल्दी के भीतर इसी लेखक के लिए भेज दिया जाएगा। इंटरनेशनल जर्नल की ओर से, मैं अपने सभी साथी शोधकर्ताओं और विद्वानों के लिए मेरे संबंध बढ़ाने और उन्हें अपने क्षेत्र में समृद्धि की कामना करता हूं।

Vol 3, No 6 (2017): VOL-03_ISSUE-06_June_2017

साहित्य संहिता में प्रकाशित सभी लेखों का आप अपने अध्ययन व् शोध कार्य में उचित सन्दर्भ के साथ प्रयोग कर सकते है. इसके लिए कोई लिखित अनुमति की जरुरत नहीं है.

Vol 3, No 5 (2017): VOL-03_ISSUE-05_May_2017

साहित्य संहिता में प्रकाशित सभी लेखों का आप अपने अध्ययन व् शोध कार्य में उचित सन्दर्भ के साथ प्रयोग कर सकते है. इसके लिए कोई लिखित अनुमति की जरुरत नहीं है.

Vol 3, No 4 (2017): VOL-03_ISSUE-04_APRIL_2017

साहित्य संहिता में प्रकाशित सभी लेखों का आप अपने अध्ययन व् शोध कार्य में उचित सन्दर्भ के साथ प्रयोग कर सकते है. इसके लिए कोई लिखित अनुमति की जरुरत नहीं है.

Vol 3, No 3 (2017): Vol-03_Issue-03_MARCH_2017

साहित्य संहिता पत्रिका का प्राइम फोकस हिंदी की पढ़ाई से संबंधित लेख प्रकाशित करने के लिए है। यह पत्रिका हिन्दी अनुसंधान में छात्रों और कर्मियों को प्रेरित करने के उद्देश्य के साथ मंच प्रदान करता है। हिन्दी साहित्यए प्राचीन भारतीय विज्ञान (हिन्दी में), संगणना भाषा विज्ञान, संस्कृति, महाकाव्य, व्याकरण, इतिहास, भारतीय सौंदर्य और राजनीति, पुराणों, धर्म, साहित्य, वेद, वैदिक अध्ययन, बौद्ध साहित्य, भारतीय और पश्चिमी तार्किक सिस्टम, भारतीय प्रवचन विश्लेषण, भारतीय दर्शन, भारतीय सामाजिक-राजनीतिक चिंतन, प्दकवसवहपबंस अध्ययन, जैन साहित्य, हिंदू ज्योतिष ।

Vol 3, No 2 (2017): VOL-03_ISSUE-02_FEBRUARY_2017

पत्रिका का प्राइम फोकस हिंदी की पढ़ाई से संबंधित लेख प्रकाशित करने के लिए है। यह पत्रिका हिन्दी अनुसंधान में छात्रों और कर्मियों को प्रेरित करने के उद्देश्य के साथ मंच प्रदान करता है। हिन्दी साहित्यए प्राचीन भारतीय विज्ञान (हिन्दी में), संगणना भाषा विज्ञान, संस्कृति, महाकाव्य, व्याकरण, इतिहास, भारतीय सौंदर्य और राजनीति, पुराणों, धर्म, साहित्य, वेद, वैदिक अध्ययन, बौद्ध साहित्य, भारतीय और पश्चिमी तार्किक सिस्टम, भारतीय प्रवचन विश्लेषण, भारतीय दर्शन, भारतीय सामाजिक-राजनीतिक चिंतन, प्दकवसवहपबंस अध्ययन, जैन साहित्य, हिंदू ज्योतिष ।

Vol 3, No 01 (2017): Vol-03_Issue-01_January_2017

पत्रिका का प्राइम फोकस हिंदी की पढ़ाई से संबंधित लेख प्रकाशित करने के लिए है। यह पत्रिका हिन्दी अनुसंधान में छात्रों और कर्मियों को प्रेरित करने के उद्देश्य के साथ मंच प्रदान करता है। हिन्दी साहित्यए प्राचीन भारतीय विज्ञान (हिन्दी में), संगणना भाषा विज्ञान, संस्कृति, महाकाव्य, व्याकरण, इतिहास, भारतीय सौंदर्य और राजनीति, पुराणों, धर्म, साहित्य, वेद, वैदिक अध्ययन, बौद्ध साहित्य, भारतीय और पश्चिमी तार्किक सिस्टम, भारतीय प्रवचन विश्लेषण, भारतीय दर्शन, भारतीय सामाजिक-राजनीतिक चिंतन, प्दकवसवहपबंस अध्ययन, जैन साहित्य, हिंदू ज्योतिष ।

2016

Vol 2, No 12 (2016): Vol-2_Issue-12_December_2016

पत्रिका का प्राइम फोकस हिंदी की पढ़ाई से संबंधित लेख प्रकाशित करने के लिए है। यह पत्रिका हिन्दी अनुसंधान में छात्रों और कर्मियों को प्रेरित करने के उद्देश्य के साथ मंच प्रदान करता है। हिन्दी साहित्यए प्राचीन भारतीय विज्ञान (हिन्दी में), संगणना भाषा विज्ञान, संस्कृति, महाकाव्य, व्याकरण, इतिहास, भारतीय सौंदर्य और राजनीति, पुराणों, धर्म, साहित्य, वेद, वैदिक अध्ययन, बौद्ध साहित्य, भारतीय और पश्चिमी तार्किक सिस्टम, भारतीय प्रवचन विश्लेषण, भारतीय दर्शन, भारतीय सामाजिक-राजनीतिक चिंतन, प्दकवसवहपबंस अध्ययन, जैन साहित्य, हिंदू ज्योतिष ।

Vol 2, No 11 (2016): Vol-2_Issue-11_November_2016

पत्रिका का प्राइम फोकस हिंदी की पढ़ाई से संबंधित लेख प्रकाशित करने के लिए है। यह पत्रिका हिन्दी अनुसंधान में छात्रों और कर्मियों को प्रेरित करने के उद्देश्य के साथ मंच प्रदान करता है। हिन्दी साहित्यए प्राचीन भारतीय विज्ञान (हिन्दी में), संगणना भाषा विज्ञान, संस्कृति, महाकाव्य, व्याकरण, इतिहास, भारतीय सौंदर्य और राजनीति, पुराणों, धर्म, साहित्य, वेद, वैदिक अध्ययन, बौद्ध साहित्य, भारतीय और पश्चिमी तार्किक सिस्टम, भारतीय प्रवचन विश्लेषण, भारतीय दर्शन, भारतीय सामाजिक-राजनीतिक चिंतन, प्दकवसवहपबंस अध्ययन, जैन साहित्य, हिंदू ज्योतिष ।

Vol 2, No 10 (2016): Vol-2_Issue-10_October_2016

साहित्य संहिता में प्रकाशित सभी लेखों का आप अपने अध्ययन व् शोध कार्य में उचित सन्दर्भ के साथ प्रयोग कर सकते है. इसके लिए कोई लिखित अनुमति की जरुरत नहीं है.

Vol 2, No 9 (2016): Vol-2_Issue-09_September_2016

साहित्य संहिता में प्रकाशित सभी लेखों का आप अपने अध्ययन व् शोध कार्य में उचित सन्दर्भ के साथ प्रयोग कर सकते है. इसके लिए कोई लिखित अनुमति की जरुरत नहीं है.

Vol 2, No 01 (2016): VOL-02_ISSUE-01_January_2016

साहित्य संहिता में प्रकाशित सभी लेखों का आप अपने अध्ययन व् शोध कार्य में उचित सन्दर्भ के साथ प्रयोग कर सकते है. इसके लिए कोई लिखित अनुमति की जरुरत नहीं है.

2015

Vol 1, No 11 (2015): VOL-1_ISSUE-11_December_2015

साहित्य संहिता में प्रकाशित सभी लेखों का आप अपने अध्ययन व् शोध कार्य में उचित सन्दर्भ के साथ प्रयोग कर सकते है. इसके लिए कोई लिखित अनुमति की जरुरत नहीं है.

Vol 1, No 10 (2015): VOL-1_ISSUE-10_November_2015

साहित्य संहिता में प्रकाशित सभी लेखों का आप अपने अध्ययन व् शोध कार्य में उचित सन्दर्भ के साथ प्रयोग कर सकते है. इसके लिए कोई लिखित अनुमति की जरुरत नहीं है.

Vol 1, No 9 (2015): VOL-1_ISSUE-09_October_2015

साहित्य संहिता में प्रकाशित सभी लेखों का आप अपने अध्ययन व् शोध कार्य में उचित सन्दर्भ के साथ प्रयोग कर सकते है. इसके लिए कोई लिखित अनुमति की जरुरत नहीं है.

1 - 25 of 33 Items     1 2 > >>